Thursday, April 25, 2024
No menu items!
spot_img
Homeदेश और विदेशभारत गणराज्य के लिए ऐतिहासक दिन, देश की पहली आदिवासी महिला बनी...

भारत गणराज्य के लिए ऐतिहासक दिन, देश की पहली आदिवासी महिला बनी राष्ट्रपति

रिपोर्टर  : गणेश बंजारा

युवा मोर्चा भाखर मंडल अध्यक्ष नरेंद्र सिंह राव ने बताया कि आबू पिंडवाड़ा विधायक समाराम ग्रासिया के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं द्वारा श्रीमती द्रोपदी जी मुर्मू के राष्ट्रपति बनने की खुसी में तलेटी चौराहे पर पटाखे फोड़कर व एक दूसरे को मिठाई खिलाकर बधाई दी।
युवा मोर्चा के कार्यकताओ एवम पदाधिकारीयो ने तलेटी चौराहे पर भारत माता की जय व द्रोपदी मुर्मू जिंदाबाद के नारे लगाये व एक दूसरे को बधाई दी

आबू पिंडवाड़ा विधायक समाराम ग्रासिया ने बताया ओडिसा के मयुरगंज जिले के रायरंगपुर में 20 जून 1958 में 1 साधारण परिवार में पैदा हुई द्रौपदी जी भारत की पहली आदिवासी राष्ट्रपति है,ये पहले झारखंड की राज्यपाल भी रह चुकी है।
भाखर मंडल अध्यक्ष भारमाराम ग्रासिया ने बताया 25 जुलाई को वो राष्ट्रपति की शपथ लेगी ,उन्हें उनके समक्ष चुनाव लड़ने वाले यशवंत सिन्हा ने सबसे पहले बधाई दी।
गणेश बंजारा ने बताया कि हमारे लिए गर्व की बात है कि नवनियुक्त राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू जी ब्रह्माकुमारीज संस्थान से जुड़ी हुई
इस दौरान आबू पिंडवाड़ा विधायक व राष्ट्रपति के प्रस्तावक समाराम गरासिया,भाखर मंडल अध्यक्ष भरमाराम ग्रासिया , महामंत्री दशरथ सिंह सिसोदिया,युवा मोर्चा अध्यक्ष नरेंद्र सिंह राव , पुर्व अध्यक्ष पीराराम देवासी , घुमन्तु प्रकोष्ट जिला सहसंयोजक गणेश बंजारा , किसान मोर्चा उपाध्यक्ष पुखराज सीरवी, किसान मोर्चा आई टी प्रभारी अजय सिंह चौधरी, छगन भाई कोली, ओमनारायण बराड़ा, केलाश बंजारा, देवीलाल बंजारा, तेजाराम ग्रासिया , दिताराम ग्रासिया ,सुमेर सिंह , सलमान खान , सहित भारी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित रहे

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments