News Express24

site logo
Breaking News

विंध्यांचल पर्वत श्रृंखला पर स्थित पन्ना टाइगर रिजर्व पन्ना और हाल ही में पन्ना छतरपुर के जंगल को यूनेस्को में शामिल किया गया

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

पन्ना से चरनजीत बंजारा की रिपोर्ट

1: पर्यटन पर पड़ा कोरोना का असर

2: नेचर ब्यूटी के लिए विश्वविख्यात है

3: मध्य प्रदेश को टाइगर स्टेट का दर्जा दिलाने में अहम योगदान

4: हाल ही में यूनेस्को बायोस्कॉपी में शामिल हुआ है पन्ना छतरपुर का  जंगल

4: बढ़ते टाइगर के कुनबे के लिए जाना जाता है

बफर जोन के  क्षेत्र में प्रशासन के लिए टाइगरो को बसाने की बड़ी चुनौती

5: दर्जनों ग्राम अभी भी कोर क्षेत्र क्षेत्र के किनारे से बसे हुए हैं जिनको उठाने को प्रशासन के सामने है बड़ी चुनौती

विंध्यांचल पर्वत श्रृंखला पर स्थित पन्ना टाइगर रिजर्व पन्ना और हाल ही में पन्ना छतरपुर के जंगल को यूनेस्को में शामिल किया गया। पन्ना टाइगर रिजर्व पन्ना अपनी नेचर ब्यूटी के लिए विश्वविख्यात है और बढ़ते टाइगर के कुनबे के लिए जाना जाता है और 10 सालों बाद मध्य प्रदेश टाइगर स्टेट का दर्जा दिलाने में पन्ना टाईगर रिजर्व पन्ना का अहम योगदान है लेकिन करोना का असर पन्ना टाइगर रिजर्व पर्यटन पर भी पढ़ रहा है लेकिन जो थोड़ी बहुत पर्यटक आते हैं वह एक ही सफारी टाइगर के दीदार करते हैं

हम बात कर रहे हैं सन 2009 में बाघ विहीन हो चुके मध्य प्रदेश के पन्ना टाइगर रिजर्व पन्ना की जो हाल ही में आपसी संघर्ष में टाइगरो की मौत हो जाने से चर्चा में रहा है लेकिन  अपने बढ़ते टाइगर के कुनबे के लिए भी जाना जाता है और विंध्यांचल पर्वत श्रृंखला  की टोपोग्राफी इतनी सुंदर है कि पर्यटक इसकी नेचर ब्यूटी की फोटोग्राफी तो कहीं वीडियो बनाते नजर आते हैं तो कहीं सेल्फी लेते हुए नजर आते हैं तभी तो इसकी नेचर ब्यूटी को देखकर राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम ने पन्ना टाइगर रिजर्व पन्ना को नेचर ब्यूटी के लिए 2007 में नेशनल अवार्ड से नवाजा था। यहां जो भी पर्यटक आते हैं वह पहली सफारी में टाइगर के दीदार करते नजर आते हैं कहीं टाइगर के साथ सेल्फी तो कहीं फोटोग्राफी करते हुए आसानी से देखे जा सकते हैं

भारत की पुरानी पर्वत श्रृंखलाओं में से एक विंध्यांचल पर्वत श्रृंखला पर स्थित पन्ना टाइगर रिजर्व पन्ना अपनी नेचर ब्यूटी के लिए विश्वविख्यात है पर्यटक इसकी नेचर को देख इतने प्रसन्न होते हैं कि कहीं उसकी वीडियोग्राफी तो सेल्फी लेते हुए नजर आते हैं एक ही सफारी टाइगर तेंदुआ और भालू को रोड पर तो कहीं बैठे हुए चहल कदमी करते देख तस्वीर कैमरे में कैद करते नजर आते हैं अगर हम बात करें नेचर ब्यूटी की तो पन्ना के 3000 वर्ग किलोमीटर 193 देशों के समूह यूनेस्को में शामिल किया गया है हम बता दें पन्ना टाइगर रिजर्व पन्ना के जंगलों में 48 प्रकार के जानवरों से 300 प्रकार की चिड़िया जिनमें सात प्रकार के गिद्ध और 60 से भी अधिक शावक सहित टाइगर स्वच्छ मुद्रा में विचरण करते हैं हम बता दे पन्ना टाइगर रिजर्व पन्ना का कुल क्षेत्रफल 1671 स्क्वेयर किलोमीटर हैक जिसमें 543 किलोमीटर कोर एरिया और कोर एरिया में से ही 110 स्कोर किलोमीटर में पर्यटन अलाउड है 110 स्क्वायर किलोमीटर की टोपोग्राफी देख पर्यटक इतने मंत्रमुग्ध होते हैं कि जो आए एक बार आता है वह पन्ना टाइगर रिजर्व नेचर ब्यूटी बार-बार देखना चाहता है आइए हम आपको दिखाते हैं पन्ना टाइगर रिजर्व पन्ना की नेचर ब्यूटी की कुछ तस्वीरें वहीं पर्यटन से जुड़े लोगों में मायूसी देखी जा रही है क्योंकि हवाई सेवाएं चालू ना होने के कारण और ट्रेन और बस सेवाएं चालू ना होने के कारण लोकल का ही टूरिस्ट अभी पन्ना टाइगर रिजर्व पन्ना पहुंच रहा है

 

 

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

यह भी पढ़े ..

ट्रेंडिंग न्यूज़ ..

Add New Playlist