News Express24

site logo
Breaking News

लंदन में भारतीय दूतावास के बाहर कृषि कानूनों का विरोध कर रहे कुछ लोगों ने खालिस्तान के झंडे लहराए

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

केंद्र सरकार के तीनों कृषि कानून के खिलाफ जारी आंदोलन में दूसरे देशों की भी एंट्री हो गई है। लंदन में भारतीय दूतावास के बाहर कृषि कानूनों का विरोध कर रहे कुछ लोगों ने खालिस्तान के झंडे लहराए। इसके अलावा, कुछ लोगों ने भारत विरोधी नारेबाजी भी की।

न्यूज एजेंसी एएनआई ने वीडियो शेयर कर बताया है कि लंदन में स्थित भारतीय दूतावास के बाहर कुछ लोगों ने कृषि कानूनों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। इसी दौरान, किसानों के समर्थन में नारेबाजी हुई। न्यूज एजेंसी ने दावा किया है कि वहां प्रदर्शन कर रहे कुछ लोगों ने भारत विरोधी नारे लगाए। दूतावास के बाहर बड़ी संख्या में लोगों के इकट्ठे होने की वजह से लंदन की पुलिस को भी वहां सुरक्षा बढ़ानी पड़ी ।

कृषि कानूनों के खिलाफ जारी आंदोलन धीरे-धीरे देश से निकलकर विदेशों तक भी पहुंचता जा रहा है। दुनियाभर में रह रहे सिख और पंजाबी लोग किसान आंदलोन से जुड़ते जा रहे हैं। वहीं, ब्रिटेन के भारतीय मूल और पंजाब से संबंध रखने वाले 36 सांसदों ने कृषि बिलों को लेकर पीएम मोदी के साथ ये मुद्दा उठाने की बात कही हैं। सांसदों ने विदेश सचिव डॉमिनिक रैब को लिखा है कि वे किसान आंदोलन को लेकर पीएम मोदी से चर्चा करें। लेबर सांसद तन्मनजीत सिंह ढेसी द्वारा समन्वित, पत्र में राब के साथ एक तत्काल बैठक की मांग की गई थी। पत्र पर हस्ताक्षर करने वाले नेताओं में लेबर, कंजरवेटिव और स्कॉटिश नेशनल पार्टी के पूर्व श्रम नेता जेरेमी कॉर्बिन, वीरेंद्र शर्मा, सीमा मल्होत्रा, वैलेरी वाज़, नादिया व्हिटोम, पीटर बॉटमली, जॉन मैककॉनेल, मार्टिन डॉकर्टी-ह्यूजेस और एलिसन थेवलिस शामिल हैं।

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

यह भी पढ़े ..

ट्रेंडिंग न्यूज़ ..

Add New Playlist