News Express24

site logo
Breaking News

न्यूजीलैंड के कृषि मंत्री बोले – मैं किसान का बेटा हूं तो कैलाश चौधरी ने कहा, मैंने तो खेत में हल भी चलाया है

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

विभिन्न समझौतों पर सहमति के साथ भारत-न्यूजीलैंड के कृषि मंत्रियों की द्विपक्षीय बैठक संपन्न

रिपोर्ट – नेमी चन्द लोहार. बाड़मेर राजस्थान

बाड़मेर। केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने बुधवार को न्यूजीलैंड के कृषि एवं खाद्य सुरक्षा राज्य मंत्री डेमियन ओ’कॉनर के साथ द्विपक्षीय बैठक में भारत का प्रतिनिधित्व किया। इस दौरान दोनों ओर के प्रतिनिधिमंडलों के सदस्य भी मौजूद रहे।

भारत-न्यूजीलैंड के बीच कृषि, बागवानी, पशुपालन और मछलीपालन के क्षेत्रों में साझा सहयोग पर चर्चा हुई और कई समझौतों पर सहमति बनी। केंद्रीय मंत्री चौधरी ने महात्मा गांधी के सम्मान में उनकी 150वीं वर्षगांठ मनाने और डाक टिकट जारी करने के लिए न्यूजीलैंड सरकार का आभार व्यक्त किया। भारत की ओर से न्यूजीलैंड को अंगूर का निर्यात करने और वहां से कीवी फलों का आयात करने को लेकर दोनों मंत्रियों के बीच सकारात्मक चर्चा हुई। बैठक में चर्चा के दौरान जब न्यूजीलैंड के कृषि मंत्री ओ’कॉनर ने कृषि क्षेत्र में नवाचार लाने पर बल देते हुए कहा कि मैं खुद एक किसान हूं तो केंद्रीय मंत्री चौधरी ने भी मुस्कराते हुए कहा कि मैं भी किसान का बेटा हूं, मैंने भी खेत में हल चलाया है और किसानों की समस्याओं से भलीभांति वाकिफ हूं और उनके कल्याण के लिए जी-जान से लगा हूं तो दोनों प्रतिनिधिमंडलों के सदस्य अपनी हंसी नहीं रोक पाए। पहली बार ऐसा वाकया देखने को मिला, जब दो देशों के कृषि मंत्री खुद किसान हो और आपस में किसानों की समस्याओं पर जमीनी स्तर की चर्चा कर रहे हो। इस दौरान कृषि क्षेत्र में उच्च शिक्षा को लेकर साझा कार्यक्रमों एवं परस्पर सहयोग बढाने पर भी सहमति बनी। द्विपक्षीय बैठक के बाद केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी ने प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि दोनों देशो के बीच व्यापार में सकारात्मक प्रगति हो रही है।

कृषि, पशुपालन, शिक्षा एवं पर्यटन ने हमारी आर्थिक और वाणिज्यिक भागीदारी को तेज गति प्रदान की है। चौधरी ने कहा कि न्यूजीलैंड उच्च गुणवत्ता वाले शहद उत्पादन के लिए जाना जाता है। भारत अपने राष्ट्रीय मधुमक्खी पालन और शहद मिशन में न्यूजीलैंड से सहयोग लेकर अपने किसानों की आमदनी बढाने के क्षेत्र में तेजी से काम करेगा।

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

यह भी पढ़े ..

ट्रेंडिंग न्यूज़ ..

Add New Playlist