News Express24

site logo
Breaking News

जिस स्कूल के कमरे में छात्र के ऊपर गिरा था पंखा वहां पहुंचे मनोज तिवारी, पत्रकारों की नो इंट्री

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp


सरस्वती द्विवेदीनई दिल्ली, -दिल्ली भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी और विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष विजेंद्र गुप्ता बृहस्पतिवार को त्रिलोकपुरी स्थित शारदा सेन राजकीय सर्वोदय स्कूल का जायजा लिया। दिल्ली सरकार के इसी स्कूल में अभी हाल में ही एक छात्र के ऊपर पंखा गिर गया था जिससे उसे गंभीर चोटे आयी हैं।
स्कूल का निरीक्षण करने के बाद सांसद मनोज तिवारी ने कहा कि दिल्ली सरकार द्वारा 25 लाख की लागत से जो नए कमरे बनाए गए हैं ये स्कूल का कमरा भी उन्हीं कमरों में से एक है। इससे कम की लागत में तो लेंटर पर बनी इमारत तैयार हो जाती है, जबकि यह इमारत गार्डर पर बनी है। दिल्ली सरकार ने जितना पैसा स्कूलों के निर्माण पर खर्च किया है उससे तीन गुना कम लागत से हमने निगम के स्कूल बनवाकर तैयार किए हैं।
उन्होंने कहा की कक्षा में पंखा गिरना बच्चों के लिए बिल्कुल सुरक्षित नहीं है, अभी तो एक बच्चा घायल हुआ है लेकिन इस तरह की घटना होने से कोई बड़ा हादसा भी हो सकता है। इस घटना पर हम दिल्ली सरकार से जवाब मांगेंगे, हमने दिल्ली सरकार को स्कूल बनाने से कभी नहीं रोका है लेकिन वह 25 लाख में ऐसे स्कूल भी न बनाएं जिससे बच्चों की सुरक्षा दाव पर लगे।
वहीं, शारदा सेन राजकीय सर्वोदय स्कूल में पत्रकारों को जाने से रोक दिया गया। स्कूल के उपप्रधानाचार्य ने कहा कि उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के आदेशानुसार, जिस कमरे में बच्चे के ऊपर पंखा गिरा था वहां पर पत्रकारों को प्रवेश नहीं दिया जाएगा। कमरे में सिर्फ मनोज तिवारी और विजेंद्र गुप्ता को ही जाने दिया गया।
स्कूल में निरीक्षण के बाद मनोज तिवारी और विजेंद्र गुप्ता ने अस्पताल में भर्ती घायल छात्र से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने छात्र के जल्द ठीक होने की कामना की।इससे पहले मनोज तिवारी ने बुधवार को प्रेस कांफ्रेंस कर उपमुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया पर जमकर निशाना साधा था। मनोज तिवारी ने कहा था कि दिल्ली सरकार त्रिलोकपुरी के जिस स्कूल को विश्व स्तरीय बताती रही है, उसी स्कूल में पंखा गिरने से एक छात्र बुरी तरह से जख्मी हो गया। उन्होंने इस घटना के लिए दिल्ली सरकार को जिम्मेदार ठहराया और कहा कि इसके लिए शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया को माफी मांगनी चाहिए।

भाजपा नेता ने कहा कि पांच लाख में बनने वाले स्कूल के कमरे को आप सरकार 25 लाख में बनवा रही है। इसे सिसोदिया सही ठहरा रहे हैं। लेकिन, पंखा गिरने की घटना से दिल्ली सरकार की पोल खुल गई है।
मंगलवार को छात्र पर गिरा था पंखा
त्रिलोकपुरी के ब्लॉक-20 स्थित राजकीय सवरेदय विद्यालय की सातवीं कक्षा में पढ़ रहे छात्र हर्ष (13) के सिर पर मंगलवार को छत का पंखा गिर गया था। इस हादसे में वह गंभीर रूप से घायल हो गया। आनन-फानन में शिक्षकों ने छात्र को लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल में भर्ती करवाया गया। हालत नाजुक होने पर रात में उसे जीटीबी अस्पताल रेफर कर दिया गया। बुधवार सुबह उसके सिर का ऑपरेशन हुआ। अस्पताल में छात्र की हालत नाजुक बनी हुई है।
इस हादसे के बाद स्कूल प्रशासन ने चुप्पी साध ली है। पीड़ित परिवार की शिकायत पर मयूर विहार थाना पुलिस ने स्कूल के खिलाफ लापरवाही का मामला दर्ज कर लिया है। परिजनों ने इस हादसे के लिए दिल्ली सरकार को जिम्मेदार ठहराया है।

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

यह भी पढ़े ..

ट्रेंडिंग न्यूज़ ..

Add New Playlist