News Express24

site logo
Breaking News

गुजरात: तलवारों से होती है मां की आरती, तो वही काठियावाड़ी 8 किलो की पगड़ी पहन गरबा नृत्य

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

 

इस बार नवरात्रा महोत्सव एक अलग ही अंदाज में।

रिपोर्ट मनोहर पंचाल।

देश के हर कोनो में नवरात्रा कि धुम दिखने को मिल रही हैं,और नवरात्रि का रंग गुजरात में तों अलग हि माना जाता है। गुजरात का यह त्योहार मां कि भक्ति के लिए प्रसिद्ध है,और हर किसी के मन में गरबा नृत्य का हूनर साया रहता है। वही लोग बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेते हैं। लेकिन इस बार नवरात्रा महोत्सव एक अलग ही अंदाज में मनाया जा रहा है।

 

डांडिया और गरबा के लिए मशहूर गुजरात में रविवार को नृत्‍य की एक नई विधा देखने को मिली। भरूच जिले में नवरात्रि के दौरान आयोजित कार्यक्रम में राजपूत समुदाय के लोगों ने तलवार के साथ डांस किया। पुरुष और महिलाओं ने संगीत की धुन पर लयबद्ध होकर तलवार संग मनमोहक नृत्‍य किया। कतार में नाचते इन श्रद्धालुओं को लोग अपने कैमरों में कैद करने को आतुर दिखे। रविवार को दुर्गा अष्‍टमी के अवसर पर भरूच जिले में दुर्गा पूजा कार्यक्रम का आयोजन किया गया। समारोह में राजपूत समुदाय से जुड़े लोगों ने भी हिस्‍सा लिया। इन्‍होंने राजपूतों की निशानी तलवार के साथ गरबा किया। पारंपरिक घाघरा- चोली पहने महिलाओं और नवयुवतियों ने तलवार से खूब कलाबाजी दिखाई।

तों वहीं बात करें गुजरात के वडोदरा कि तो वहां गरबा नृत्य करने 8 किलो कि काठियावाड़ी पगड़ी पहने एक युवक मोनमोहक अंदाज में गरबा नृत्य कर वहां के लोगों का दिल जीत लिया।

वही गुजरात के सुरत में एक सोसाइटी अन्दर हेलमेट पहनकर एक अलग अंदाज में गरबा नृत्य करते दिखे। वहां स्थानिय गरबा नृत्य लोगों ने बताया कि सरकार के नये नियमों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। और जो सरकार ने नए नियमों के तहत जुर्माना राशि का भी प्रावधान बताया है उसका भी हम विरोध करते हैं।

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

यह भी पढ़े ..

ट्रेंडिंग न्यूज़ ..

Add New Playlist